शनिवार, 28 मई 2016

सपना मांगलिक



सपना मांगलिक
जन्मतिथि -17/02/1981 (17 फरवरी, 1981)

जन्मस्थान – भरतपुर, राजस्थान

माता - श्रीमती कमला देवी

पिता - स्वर्गीय जगदीश प्रसाद बंसल

शिक्षा - एम.ए., बी.एड., डिप्लोमा इन एक्सपोर्ट मेनेजमेंट 

संस्थापक – जीवन सारांश समाज सेवा समिति, शब्द-सारांश (साहित्य एवं पत्रकारिता को समर्पित संस्था)

प्रकाशित निजी  कृतियाँ - पापा कब आओगे, नौकी बहू (कहानी संग्रह) सफलता रास्तों से मंजिल तक, ढाई आखर प्रेम का (प्रेरक गद्य संग्रह) कमसिन बाला, कल क्या होगा, बगावत (काव्य संग्रह) जज्बा-ए-दिल–प्रथम,द्वितीय,तृतीय भाग (ग़ज़ल संग्रह) टिमटिम तारे, गुनगुनाते अक्षर, होटल जंगल ट्रीट (बाल साहित्य) बोन्साई (हाइकु संग्रह) संपादित कृतियाँ – तुम को ना भूल पायेंगे (संस्मरण संकलन) स्वर्ण जयंती स्मारिका (समानांतर साहित्य संस्थान), बातें अनकही (कहानी संकलन)

सम्मान - आगमन साहित्य परिषद् द्वारा दुष्यंत सम्मान, प्राइड ऑफ़ नेशन द्वारा सीमापुरी टाइम्स, भारतेंदु समिति कोटा, एत्मादपुर नगर निगम द्वारा काव्य मंजूषा सम्मान, ज्ञानोदय साहित्य संस्था, कर्नाटक द्वारा ज्ञानोदय साहित्य भूषण 2014 सम्मान, अखिल भारतीय गंगा समिति जलगांव द्वारा गंगा गौमुखी एवं गंगा ज्ञानेश्वरी साहित्य गौरव सम्मान, गुगनराम एजुकेशनल ट्रस्ट (भिवानी, हरियाणा) द्वारा पुस्तक ‘टिमटिम तारे’ एवं ‘कल क्या होगा’ पुरुस्कृत एवं विर्मो देवी सम्मान से सम्मानित,  रुमिनेशन एंड कल्चरल सोसायटी मेरठ द्वारा प्रेरक पुस्तक ‘सफलता रास्तों से मंजिल तक’ सम्मानित, राष्ट्र भाषा स्वाभिमान न्यास (गाज़ियबाद) द्वारा कृति ‘सफलता रास्तों से मंजिल तक’ पुरुस्कृत, हिंदी साहित्य सभा आगरा द्वारा शिल्पी शर्मा स्मृति सम्मान, आगरा महानगर लेखिका मंच द्वारा महदेवी वर्मा सम्मान, समानांतर संस्था द्वारा सर्जना सम्मान, हेल्थ केयर क्लब आगरा, विभिन्न राजकीय एवं प्रादेशिक मंचों से सम्मानित

पता - एफ-659, बिजलीघर के निकट, कमला नगर, आगरा 282005(उत्तर प्रदेश)

दूरभाष – 09548509508, व्हाट्स अप्प -07895813848  email - sapna8manglik@gmail.com

1 टिप्पणी:

  1. जो हाथों से काम करे, वह मजदुर......जो हाथ और दिमाग से काम करे, वह कारीगर....और जो हाथो से, दिमाग से तथा दिल से काम करे, वह #कलाकार#.....ठीक जैसे पत्र लिखने के समान.......शब्द में सम्मान.....पल-पल....प्रतिपल.....परिश्रम का सम्मोहन..

    उत्तर देंहटाएं